सीखें अल्लाह के 99 सिफ़ाती नाम हिंदी में मतलब के साथ : Allah ke 99 Naam| PDF Download

Allah ke 99 Naam ( सिफ़ाती नाम ) – शुरुआत

Allah ke 99 Naam – अल्लाह के 99 सिफ़ाती नाम होते हैं, जिन्हें “अस्मा-उल-हुस्ना” ( सबसे अच्छे नाम ) कहा जाता है, अल्लाह के सिफ़ाती नामों को याद करके उस पर अमल करना हर मुसलमान पर फर्ज हैं, और अल्लाह के नामों का कुरान में भी जिक्र हैं, और सहीह हदीस में भी इसके बारे में मालूम चलता हैं जिसमें आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फ़रमाया कि इन नामों को याद करके उस पर अमल करने वाला इन शा अल्लाह जन्नत में जाएगा, अब सवाल यह हैं कि कौन नहीं जाना चाहेगा जन्नत में हर कोई जाना चाहेगा इसलिए हमें अल्लाह सिफ़ाती नामों को जरूर याद करना चाहिए और उन पर अमल भी करना चाहिए।

अल्लाह के नाम हमारे दीन-इमान के नुस्ख़े हैं जिन्हें हमें अपनी आदत के साथ हमारी ज़िन्दगी में शामिल करना चाहिए। हर नाम का अपना मतलब होता है, जिससे इन नामों कि अहमियत और मतलब समझ में आता है।

अल्लाह के इन नामों में से कुछ नाम हैं जो अल्लाह की ताकत और इंसाफ को बताते हैं, जबकि कुछ नाम उसकी सलामती और बड़ाई को बताते हैं, इसलिए हमें अल्लाह के सभी नामों को मतलब के साथ याद करना चाहिए तो चलिए सीखतेहैं।

Allah ke 99 naam

कुरान में जिक्र

अगर हम अल्लाह के नामों की बात करें तो यह हमें क़ुरान से पता चलता हैं की तमाम बेहतर नाम अल्लाह ही के हैं निचे आप पढ़ सकते हो –

 قُلِ ادۡعُوا اللّٰہَ  اَوِ ادۡعُوا الرَّحۡمٰنَ ؕ اَیًّامَّا تَدۡعُوۡا فَلَہُ  الۡاَسۡمَآءُ  الۡحُسۡنٰی ۚ وَ لَا تَجۡہَرۡ بِصَلَاتِکَ وَ لَا تُخَافِتۡ بِہَا وَ ابۡتَغِ  بَیۡنَ  ذٰلِکَ  سَبِیۡلًا ﴿۱۱۰﴾

हिंदी तर्जुमा 

कह दो कि  चाहे तुम अल्लाह को पुकारो या रहमान को पुकारो, जिस नाम से भी (अल्लाह को) पुकारोगे (एक ही बात है) क्योंकि तमाम बेहतरीन नाम उसी के हैं।  (56) और तुम अपनी नमाज़ न बहुत ऊँची आवाज़ से पढ़ो और न बहुत पस्त आवाज़ से, बल्कि इन दोनों के बीच (दरमियानी) रास्ता इख़्तियार करो

Reference : Surat No 17 : سورة بنی اسراءیل - Ayat No 110

सहीह हदीस में जिक्र

حَدَّثَنَا عَمْرٌو النَّاقِدُ, وَزُهَيْرُ بْنُ حَرْبٍ, وَابْنُ أَبِي عُمَرَ, جَ مِيعًا عَنْ سُفْيَانَ، - وَاللَّفْظُ لِعَمْرٍو - حَدَّثَنَا سُفْيَانُ بْنُ عُيَيْ نَةَ، عَنْ أَبِي الزِّنَادِ، عَنِ الأَعْرَجِ، عَنْ أَبِي هُرَيْرَةَ، عَنِ النّّبِي ِّ صلى الله عليه وسلم قَالَ ‏" لِلَّهِ تِسْعَةٌ وَتِسْعُونَ اسْمًا مَنْ حَفِظَهَا دَخَلَ الْجَنَّةَ وَإِنَّ اللََّ وِتْرٌ يُحِبُّ الْوِتْرَ ‏‏‏‏‏ فِي رِوَايَةِ ابْنِ أَبِي عُمَرَ ‏" مَنْ أَحْصَاهَا ‏"‏

हिंदी तर्जुमा

अबु हुरैरा (रज़ि अ.) रिवायत है के रसूल अल्लाह (स.अ.व.) ने इरशाद फरमाया - अल्लाह के निन्यानवे नाम है जो उनको याद करेगा जन्नत में दाख़िल होगा बेशक़ अल्लाह (ताक़) एक है और वो (ताक) यानि (जिसका कोई जोड़ा ना हो) को पसंद करता हैं और इब्ने उमर (रज़ि.अ) की रिवायत में ये अल्फाज़ है "जिसने उनको गिना (शुमार) किया है।⁩
Reference : sahih Muslim पुस्तक 35, हदीस 6475

Allah ke 99 Naam ( सिफ़ाती नाम ) – हिंदी में मतलब के साथ

अब हम अल्लाह के शिफ़ाती नाम मतलब के साथ नीचे सीखेंगे –

No.नाम मतलब
1अर रहमानसभी जीव ( मखलुकात ) पर बहुत मेहरबान
2अर रहीमबहुत ज्यादा रहम वाला
3अल मलिकअसली ( मालिक ) बादशाह
4अल कुद्दुसतमाम बुराईयों, कमजोरियों से पाक ज़ात
5अस सलामसबसे सही, सलामती वाला, बरकत देने वाला
6अल मु अमिनसच्चाई बताने वाला, विश्वास दिलाने वाला
7अल मुहयमिननिगरानी ( सुरक्षा ) करने वाला
8अल अज़ीज़सब पर ग़ालिब ( छाया हुआ )
9अल जब्बारसबसे जबरदस्त
10अल मुतकब्बिरबड़ाई वाला, महान
11अल खालिकपैदा करने वाला
12अल बारीसब कुछ बनाने और उसको बदलने कि ताकत रखने वाला
13अल मुसव्विरसूरतें ( रूप ) बनाने वाला
14अल गफ्फारसबसे ज्यादा बख्शने ( माफ करने ) वाला
15अल क़हहारसब को अपने काबू में रखने वाला
16अल वहहाबबहुत ज्यादा देने वाला
17अर रज्जाकरिज़्क़ ( रोजी रोटी ) देने वाला
18अल फतताहसब खोलने वाला, जीत देने वाला
19अल अलीमखूब जानने वाला
20अल काबिज़नपी तुली रोज़ी देने वाला, बढ़ाने वाला
21अल बासितरोज़ी को ( खुला हुआ ) फराख देने वाला
22अल खाफिज़पस्त करने वाला ( हराने वाला ), कम करने वाला
23अर राफीबलंद करने वाला
24अल मुईज़इज्ज़त देने वाला
25अल मुज़िलज़िल्लत ( बेइज़्ज़ती ) देने वाला
26अस समीसब कुछ सुनने वाला
27अल बसीरसब कुछ देखने वाला
28अल हकमफैसला करने वाला
29अल अदलअदल ( इंसाफ ) करने वाला
30अल लतीफ़बारीक से बारीक चीजों को जानने वाला
31अल खबीरसब से बाखबर ( सब की खबर रखने वाला )
32अल हलीमनिहायत बुरदबार ( सब्र वाला )
33अल अज़ीमबुज़ुर्ग, जबरदस्त
34अल गफूरगुनाहों को बख्शने वाला
35अश शकूरकदरदान ( कद्र करने वाला )
36अल अलीबहुत बुलंद, बहुत ज्यादा इज्जत वाला
37अल कबीरसबसे बड़ा, सबसे महान
38अल हफीजहिफाजत करने वाला
39अल मुकीतसब को रोज़ी व तवानाई ( ताकत ) देने वाला, पालनहार
40अल हसीबसब के लिए काफी
41अल जलीलइज्जत वाला
42अल करीमबेइंतिहा ( बहुत ज्यादा ) करम करने वाला
43अर रक़ीबध्यान रखने वाला
44अल मुजीबदुआएं सुनने और कुबूल करने वाला
45अल वासिऊकुशादगी देने वाला ( गुंजाईश वाला )
46अल हकीमहिकमत वाला, जजो का जज
47अल वदूदमुहब्बत करने वाला
48अल मजीदबड़ी शान ( बहुत ज्यादा इज्जत ) वाला
49अल बाईसउठाने ( जगाने ) वाला, नयी जिंदगी देने वाला
50अश शहीदहाज़िर, गवाह
51अल हकसच्चा मालिक
52अल वकीलभरोसेमंद, काम बनाने वाला
53अल कवीशक्तिशाली ( सबसे ताकतवर )
54अल मतीनकुव्वत ( ताकत ) वाला, कभी न थकने वाला
55अल वलीहिमायत करने वाला
56अल हमीदखूबियों वाला, बड़ाई के लायक
57अल मुह्सीगिनने वाला
58अल मुब्दीसभी चीजों कि शुरुआत करने वाला
59अल मुईददोबारा पैदा ( बनाने ) करने वाला
60अल मुहयीजिंदा करने वाला, जिंदगी देने वाला
61अल मुमीतमौत देने वाला
62अल हय्युलजिंदा रहने वाला
63अल कय्यूमसब को कायम रखने और निभाने वाला
64अल वाजिदहर चीज़ को पाने वाला
65अल माजिदबुज़ुर्गी और बड़ाई वाला
66अल वाहिदएक ही हमेशा मौजूद रहने वाला
67अल अहदअकेला
68अस समदबे नियाज़ ( जिसको किसी भी चीज की कोई जरूरत न हो )
69अल कादिरहर चीज पर अपनी कुदरत रखने वाला
70अल मुक्तदिरपूरी कुदरत रखने वाला
71अल मुक़द्दमआगे करने वाला
72अल मुअख्खरपीछे और बाद में रखने वाला
73अल अव्वलसबसे पहले
74अल आखिरसब के बाद
75अज ज़ाहिरस्पष्ट, ज़ाहिर
76अल बातिनपोशीदा, छिपा हुआ
77अल वालीसब पर राज करने वाला, बिगड़ी बनाने वाला
78अल मुताआलीसबसे बलंद व बरतर
79अल बरबड़ा अच्छा सुलूक करने वाला
80अत तव्वाबहमेशा माफ करने वाला
81अल मुन्ताकिमबदला लेने वाला
82अल अफुव्वबहुत ज्यादा माफ़ करने वाला
83अर रऊफबहुत बड़ा मुश्फिक, तरस करने वाला
84मालिकुल मुल्कमुल्कों का मालिक
85जुल जलाली वल इकरामअजमतो जलाल और इकराम वाला
86अल मुक्सितअदलो इन्साफ कायम करने वाला
87अल जामिऊसब को जमा करने वाला
88अल गनीबड़ा बेनियाज़, वह जिसको किसी चीज कि भी जरूरत नहीं
89अल मुग्नीजरूरतों को पूरा करने वाला
90अल मानिऊदेने वाला
91अज ज़ार्रनुकसान पहुँचाने वाला
92अन नाफिऊनफा ( फायदा ) पहुँचाने वाला
93अन नूरनूर बख्शने वाला
94अल हादीसीधा रास्ता दिखाने और चलाने वाला
95अल बदीबेमिसाल चीज़ को इजाद ( खोज ) करने वाला
96अल बाकीहमेशा रहने वाला
97अल वारिससब के बाद मौजूद रहने वाला
98अर रशीदबहुत रहनुमाई करने वाला
99अस सबूरबड़े ( बरदाश्त ) तहम्मुल वाला

अल्लाह के सिफ़ाती नाम याद करने के फायदे

अल्लाह के नाम याद करके उन को अमल में लाना भी जरूरी हैं तभी हमें अल्लाह के नामों का जिक्र करने के फायदे मिल सकते हैं और इन सभी अल्लाह के नामों का कितना फायदा हैं, यह अल्लाह ही बेहतर जानता हैं, बाकि अल्लाह ने जितना इल्म दिया हैं उनमे में से हम कुछ महत्वपूर्ण फायदे जानेंगे –

  • ईमान में बढ़ोतरी
  • अल्लाह की रजा हासिल होती हैं।
  • परेशानीयों से निजात
  • गुनाहों की बख्शीश
  • नेकियों में बढ़ोतरी
  • सुकून भरी जिंदगी
  • बुरे कामों से बचाव
  • अल्लाह की रहमत हासिल होती हैं।
  • रिज्क में बढ़ोतरी
  • अल्लाह के नामों पर अमल किया जाए तो इन शा अल्लाह जन्नत हासिल होंगी
  • अच्छी सेहत

सिफ़ाती नाम | PDF DOWNLOAD

अगर आप अल्लाह के नामों ( सिफ़ाती नाम ) को याद करने लिए इसे पीडीऍफ़ फॉर्मेट में डाउनलोड करना चाहते हो तो निचे डाउनलोड बटन पर क्लिक करें।

Conclusion – निष्कर्ष

आज के इस लेख में हमने सिफ़ाती नाम हिंदी में बताए हैं और साथ ही उनके मतलब भी समझाये हैं। यह पोस्ट आपको अल्लाह के नामों की अहमियत के बारे में जानकारी देता है और उन्हें याद करने में आपकी मदद करता है इसके अलावा, आप इस पोस्ट को पीडीएफ फाइल में भी डाउनलोड कर सकते हैं।

इस लेख से हमने सीखा हैं कि अल्लाह के नाम बहुत अहमियत वाले होते हैं और हर एक नाम अल्लाह की खूबियों को बताता है। हमें हमेशा इन नामों कि अहमियत को समझना चाहिए और उन्हें याद रखने के साथ साथ उन्हें अमल में लाने की कोशिश करनी चाहिए।

इउम्मीद करते हैं इस पोस्ट को पढ़कर आपको अल्लाह के सिफ़ाती नाम और उनके मतलब से जुड़ी सभी जरूरी जानकारियां मिली होंगी इसलिए आप इस पोस्ट को ध्यान से पढ़कर अपने आस-पास के लोगों को भी इसके बारे में बता सकते हैं ताकि वे भी इन नामों कि अहमियत को समझ सकें, आमीन।

FAQ – अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

अल्लाह का सबसे प्यारा नाम कौन सा है?

(अल क़ुरआन 17:110)
ऐ नबी! इनसे कहो, “अल्लाह कहकर पुकारो या रहमान कहकर, जिस नाम से भी पुकारो उसके लिये सब अच्छे ही नाम हैं।

अल्लाह के 99 नाम याद कैसे करें?

अल्लाह के 99 नामों को याद करने के लिए, आप इन तरीके का इस्तेमाल कर सकते हैं:
अपनी पसंद के हिसाब से एक अच्छी जगह ढूंढें, जहां आप मन लगा सको ।
अपने अगले शुरुआत में, “या अल्लाह” का जिक्र करें और अपने दिमाग़ में जो हैं उसको सोचें।
फिर, आप अल्लाह के पहले नाम “अर रहमान” को याद करने के बाद उसे दोहराएं।
नाम को दोहराने के बाद, आप दूसरे नाम “अर-रहीम” को याद करें और उसे भी दोहराएं।
इस तरह से, आप बाकी नामों को भी याद कर सकते हैं और उन्हें दोहराते रह सकते हैं।
आप इन नामों को भी किसी किताब या वेबसाइट से भी याद कर सकते हैं जो इन्हें आसान ढंग से पेश कर करते हैं।

( ध्यान देने वाली बात यह है कि, अल्लाह के नामों को याद करना सिर्फ नाम याद करने के लिए नहीं होता, बल्कि इनके मतलब और अहमियत को समझने का भी हिस्सा होता है। )

अल्लाह का सबसे बड़ा नाम क्या है?

अल्लाह का सबसे बड़ा नाम ( अल जुल जलाली वल इकराम ) हैं।

(Visited 982 times, 1 visits today)

1 thought on “सीखें अल्लाह के 99 सिफ़ाती नाम हिंदी में मतलब के साथ : Allah ke 99 Naam| PDF Download”

Leave a Comment